Breaking News
Home 25 अपराध 25 लव जेहाद में मां-बेटी की हत्‍या करने वाला फरार आरोपी 24 घंटे में मुठभेड के बाद धरा गया

लव जेहाद में मां-बेटी की हत्‍या करने वाला फरार आरोपी 24 घंटे में मुठभेड के बाद धरा गया

Spread the love

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में लव जेहाद के बाद मां और बेटी की हत्या कर शव को घर के अंदर ही जमीन में दफनाने वाला आरोपी शमशाद पुलिस कस्टडी से फरार होने के कुछ समय बाद मुठभेड़ में पकड़ लिया गया है। फरार होने के बाद एसएसपी ने शमशाद पर 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया था। वहीं, इंस्पेक्टर क्राइम ब्रांच भूपेंद्र सिंह का वादी चंचल से बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद लाइन हाजिर कर दिया गया।

बताया गया कि शमशाद उस वक्त फरार हुआ, जब परतापुर पुलिस उसे लेकर गांव में उसके मकान पर आ रही थी। रास्ते में वह बाथरूम करने के बहाने पुलिस की गाड़ी से उतरा और चकमा देकर फरार हो गया। आरोपी शमशाद कई दिनों से पुलिस की हिरासत में था। लेकिन बुधवार को वह मकान के अंदर से शव मिलने के बाद पुलिस हिरासत से फरार हो गया था।

फरार होने के बाद मुठभेड़ में फिर हुआ गिरफ्तार

थाना परतापुर पुलिस ने फरार आरोपी शमशाद को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी को तड़के करीब 3 बजकर 50 मिनट पर थाना क्षेत्र के बिजली बंबा बाइपास पर गिरफ्तार किया गया। मुठभेड़ में आरोपी पुलिस की गोली लगने से घायल भी हो गया। उसके पास से एक तमंचा और बाइक बरामद की गई। एसएसपी के पीआरओ द्वारा यह जानकारी दी गई है।

हिन्दू संगठनों ने पुलिस पर लगाया था मिलीभगत का आरोप

हिंदू संगठनों का आरोप है कि परतापुर पुलिस की आरोपी से मिलीभगत थी, जिसका फायदा उठाकर आरोपी फरार हुआ है। आरोपी शमशाद मूल रूप से बिहार का रहने वाला था। वहीं दूसरी ओर एसएसपी अजय साहनी ने क्राइम इंस्पेक्टर भूपेंद्र को लाइन हाजिर कर दिया था। उन पर यह कार्रवाई वादी चंचल से हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद की गई थी। आरोप है कि इंस्पेक्टर क्राइम भूपेंद्र सिंह प्रिया की सहेली चंचल पर शिकायत वापस लेने का दबाव बना रहे थे। उसे कोर्ट कचहरी का डर दिखा रहे थे।

शमशाद ने अमित बनकर तलाकशुदा महिला को प्रेमजाल में फंसाया था

शमशाद ने अपना नाम बदलकर अमित रख लिया था और शादीशुदा प्रिया को प्रेमजाल में फंसाया। महिला को जब उसकी सच्चाई का पता चला तो उसने शादी का दबाव बनाया। लेकिन, आरोपी ने महिला और उसकी बेटी की हत्या कर शवों को घर में फर्श में दफन कर दिया थ्रर। पुलिस ने बुधवार को आरोपी के घर से शवों के कंकाल बरामद किया है। प्रिया गाजियाबाद के लोनी की रहने वाली थी। उसका 10 साल पहले पति से तलाक हो गया था। प्रिया की एक बेटी भी थी। वह तलाक के बाद बेटी के साथ मोदीनगर में ब्यूटी पार्लर चलाने लगी। इसी दौरान उसका फेसबुक के जरिए अमित नाम के शख्स से दोस्ती हुई। यह दोस्ती कुछ दिनों में प्यार में बदल गई।

हकीकत सामने आई तो मां-बेटी की हत्या कर शवों को घर में दफनाया

प्रिया अमित के साथ बतौर पत्नी मेरठ में काशीराम कॉलोनी में लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगी। साल 2018 में उसे अमित की हकीकत का पता चला। उसे जानकारी हुई कि थाना परतापुर क्षेत्र के रहने वाला अमित का असली नाम शमशाद है। इसके बाद उसने खरखौदा थाने में अमित उर्फ शमशाद के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए शमशाद ने प्रिया से समझौता कर लिया और उसे अपने साथ भूडबराल स्थित घर लेकर चला गया। मंगलवार को आरोपी शमशाद के घर पर पुलिस ने जांच की तो जमीन में गडढ़ा खोदकर दबाए गए मां और बेटी के शव कंकाल के रूप में बरामद हो गए। पता चला है कि 28 मार्च को उसने प्रिया और उसकी बेटी की हत्या कर शवों को घर में दफन कर दिया गया था।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*