Breaking News
Home 25 अंतर्राष्ट्रीय 25 चीन की 70वीं वर्षगांठ: सैन्य परेड में दिखाई ताकत, पहली बार DF-41 मिसाइल का प्रदर्शन

चीन की 70वीं वर्षगांठ: सैन्य परेड में दिखाई ताकत, पहली बार DF-41 मिसाइल का प्रदर्शन

Spread the love

बीजिंग। चीन ने मंगलवार को साम्यवादी शासन के 70 साल पूरे होने पर विशाल सैन्य परेड निकालकर दुनिया को अपनी ताकत दिखाई। चीन ने अपनी सबसे घातक, आधुनिक अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल डीएफ-41 को भी पहली बार दिखाया। वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि कोई भी ताकत उनके राष्ट्र को हिला नहीं सकती। साथ ही कोई भी चीन को बढ़ने से रोक नहीं सकता।

वर्षगांठ के आधिकारिक समारोह की शुरुआत सोमवार को हो गई थी जब चीन के राष्ट्रपति शी ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के संस्थापक माओ जेडोंग की संरक्षित रखी गई पार्थिव देह को श्रद्धांजलि दी। 66 वर्षीय शी ने पिछले 70 वर्ष में चीन के लोगों की उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि हजारों वर्षों तक चीन को अपनी गिरफ्त में रखने वाली समस्या गरीबी अब खत्म होने की कगार पर है। साम्यवादी शासन की 70वीं सालगिरह का जश्न उसी तियाननमेन चौक पर मनाया जा रहा है जहां साल 1989 में कम्युनिस्ट शासन का विरोध करते हुए बड़ी संख्या में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारी मारे गए थे।

परेड में 15000 सैनिक शामिल हुए। 580 रक्षा उपकरणों का भी प्रदर्शन किया गया। 160 विमानों ने अपना कौशल दिखाया। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रीय दिवस पर वहां की जनता को बधाई देते हुए मंगलवार को कहा कि भारत, चीन के साथ अपनी मित्रता को काफी महत्व देता है ।
 
रडार से बचने में भी सक्षम: उड़ान भरने के दौरान मिसाइल लक्ष्य के हिसाब से ऊंचाई को कम या ज्यादा कर सकती है। ठोस ईंधन से चलने वाली मोबाइल अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक परमाणु मिसाइल रडार से बचने में सक्षम है।
 
अमेरिकी रक्षा प्रणाली को भी भेद सकती है यह परमाणु मिसाइल
चीन ने इस दौरान पहली बार अपनी अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक डीएफ-41 (डोंगफेंग) मिसाइल का भी प्रदर्शन किया। यह मिसाइल अमेरिका को मात्र 30 मिनट में तबाह कर सकती है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*