Breaking News
Home 25 खेल 25 कोरिया ओपन में सिंधु को झटका, पहले दौर में ही बाहर, पी. कश्यप जीते

कोरिया ओपन में सिंधु को झटका, पहले दौर में ही बाहर, पी. कश्यप जीते

Spread the love

भारतीय शटलर पीवी सिंधु इंचियोन में खेले जा रहे कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में बुधवार को पहले दौर में बाहर हो गईं। सिंधु को अमेरिका की झांग बेईवेन ने हराया। झांग ने यह मुकाबला 7-21, 24-22, 21-15 से अपने नाम किया। दूसरी ओर, साइना नेहवाल पहले राउंड में चोट के कारण रिटायर हो गईं। उनका मुकाबला दक्षिण कोरिया की किम गा इयून से था। साइना ने पहला गेम 21-19 से जीती थीं। दूसरे गेम में उन्हें 18-21 से हार का सामना करना पड़ा। रिटायर होने से पहले वे तीसरे गेम में 1-8 से पीछे चल रहीं थी।

पुरुषों में पी. कश्यप ने चीनी ताइपे के लू चिया हंग को 42 मिनट में 21-16, 21-16 से हरा दिया। विश्व में 30वीं रैंकिंग के कश्यप की 61वीं रैंक हंग के खिलाफ यह करियर की पहली भिड़ंत थी। कश्यप अब दूसरे दौर में मलेशिया के लियू डेरेन से भिड़ेंगे। दूसरी ओर, बी साई प्रणीत भी पहले दौर में बाहर हो गए। वे डेनमार्क के आंद्रेस एंटोनसन के खिलाफ चोट के कारण दूसरे राउंड के दौरान रिटायर हो गए। वे पहला राउंड 9-21 से हार गए थे। दूसरे राउंड में भी प्रणीत 7-11 से पीछे चल रहे थे।

मेंस डबल्स में मनु अत्री और सुमित रेड्डी हारे
मेंस डबल्स में भी भारत के हाथ निराशा लगी। मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की जोड़ी को चीन के हुआंग काई शियांग और लियू चेंग की जोड़ी ने 50 मिनट तक चले मुकाबले में 21-16, 19-21, 21-18 से हराकर पहले ही दौर में बाहर कर दिया।

सिंधु पहला गेम जीतने के बाद लगातार दो गेम हार गईं

सिंधु ने बेईवेन के खिलाफ पहला गेम 21-7 से अपने नाम कर लिया था। पहला गेम आसानी से जीतने के बाद ऐसा लगा था कि सिंधु दूसरे गेम को जीतकर मैच अपने नाम कर लेंगी, लेकिन बेईवेन ने दूसरे गेम में जबरदस्त वापसी की। उन्होंने 24-22 से दूसरे गेम को जीत लिया। मैच 1-1 से बराबर होने के बाद तीसरे गेम में दोनों खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन यहां सिंधु पिछड़ गईं। बेईवेन ने इस गेम को 21-15 से जीत लिया।

सिंधु चीन ओपन के क्वार्टरफाइनल में हारीं थी
27 साल की सिंधु पिछले सप्ताह चीन ओपन के क्वार्टरफाइनल में हार गईं थी। उन्होंने वर्ल्ड नंबर-9 इंडोनेशिया की एंथोनी सिनिसुका ने हराया था। सिंधु ने पिछले महीने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। वे इस वर्ल्ड चैम्पियशिप जीतने वाली पहली भारतीय शटलर हैं।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*