BEARKING NEWS
Home / NCR-गाज़ियाबाद / BSNL की हालत खराब, कर्मचारियों को अब तक नहीं मिली फरवरी माह की सैलरी

BSNL की हालत खराब, कर्मचारियों को अब तक नहीं मिली फरवरी माह की सैलरी

Spread the love

गाजियाबाद। भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) की स्थिति दयनीय होती जा रही है। कंपनी के इतिहास में पहली बार 1.76 लाख कर्मचारियों को फरवरी माह का वेतन नहीं मिला है। इस वजह से देश भर में कार्यरत बीएसएनएल के कर्मचारियों में रोष व्याप्त हो गया है। उन कर्मचारियों की हालत ज्यादा खराब है जो सिंगल वुमेन मदर है। उन परिवारों की हालत भूखों मरने की है।

कंपनी के कर्मचारियों की यूनियन ने इस बारे में दूरसंचार मंत्रालय को पत्र लिखा है। यूनियन का आरोप है कि रिलायंस जियो द्वारा बेहद ही सस्ती दरों पर मोबाइल सेवा उपलब्ध कराए जाने से पूरी टेलीकॉम इंडस्ट्री का हाल बेहाल है। इससे अन्य कंपनियों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। कर्मचारियों ने सरकार से साथ मांगा है और अपील की है कि वो कर्मचारियों को वेतनमान जारी करे। बीएसएनएल की कमाई का 55 फीसदी हिस्सा इस मद में जाता है। कंपनी के वेतन बिल में प्रत्येक साल आठ फीसदी की वृद्धि हो रही है। लेकिन कमाई बहुत ज्यादा नहीं हो रही है। 

आठ हजार करोड़ का घाटा

बीएसएनएल का घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। वित्त वर्ष 2017 में 4786 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। वहीं 2018 में यह बढ़कर आठ हजार करोड़ रुपये हो गया। 2019 में इसके और ज्यादा होने की उम्मीद है।

केवल इन कर्मचारियों को मिला वेतन

फरवरी का वेतन केवल दिल्ली में बने मुख्यालय में तैनात कर्मचारियों के अलावा केरल, जम्मू-कश्मीर और ओडिशा राज्यों में कार्यरत लोगों को मिला है। बीएसएनएल के बोर्ड ने प्रस्ताव दिया था कि वो बैंक से लोन लेकर कर्मचारियों को सैलरी दे दे, लेकिन दूरसंचार मंत्रालय ने इसको मंजूरी नहीं दी है।

About Pradeep Verma

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मुन्नी पर आचार संहिता की FIR के बाद सपा का पलटवार

Spread the love गाजियाबाद। सपा-बसपा व कांग्रेस गठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी सुरेंद्र कुमार मुन्नी आदर्श ...