BEARKING NEWS
Home / व्यापार / Jio से मुकाबले के लिए वोडाफोन आइडिया का बिग प्लान, नेटवर्क पर निवेश

Jio से मुकाबले के लिए वोडाफोन आइडिया का बिग प्लान, नेटवर्क पर निवेश

Spread the love

नई दिल्ली। जियो (Jio) से मुकाबले के लिए देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया बड़े निवेश की तैयारी में है. कंपनी अपनी सेवा को और बेहतर बनाने के लिए नेटवर्क पर अगले 15 महीने में 20,000 करोड़ रुपये निवेश करने की योजना है.

वोडाफोन के मुख्य वित्त अधिकारी अक्षय मुंद्रा ने विश्लेषकों से कहा, ‘हमने वित्त वर्ष 2018-19 और 2019-20 के लिए पूंजीगत खर्च के रूप में कुल 270 अरब रुपये दिए हैं, इसमें करीब 70 अरब रुपये पहले 9 महीनों में खर्च किए गए हैं. अगले 15 महीनों में 200 अरब रुपये का निवेश करने की योजना है.’

दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया की मानें तो राइट इश्यू के माध्यम से 25,000 करोड़ रुपये जुटाने की भी योजना है. कंपनी के प्रवर्तक शेयरधारकों- ‘वोडाफोन समूह और आदित्य बिड़ला समूह’ ने निदेशक मंडल की बैठक में अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि वह प्रस्तावित राइट इश्यू में अपनी हिस्सेदारी के तौर पर क्रमश: 11,000 करोड़ रुपये और 7,250 करोड़ रुपये तक का योगदान करने की मंशा रखते हैं.

शेयरधारकों ने यह भी कहा कि अगर राइट इश्यू का कुछ हिस्सा नहीं बिक पाता है तो वे उस बचे हुए हिस्से के पूरे या उसके कुछ भाग को खुद खरीदने का अधिकार अपने पास रख रहे हैं. मुंद्रा ने विश्लेषकों से कहा कि 27,000 करोड़ रुपये के पूंजीगत खर्च में उस क्षमता को शामिल नहीं कि गया है, जो कि वोडाफोन और आइडिया के बीच परिचालन के तालमेल से उपकरणों को फिर से उपयोग में लाने से बनेगी. इस तरह की क्षमता का मूल्यांकन 6,200 करोड़ रुपये किया गया है.

मुनाफे में लगातार कटौती

वहीं दूसरी ओर लगातार कंपनी के मुनाफे कटौती हो रही है. चालू वित्त वर्ष की दिसंबर, 2018 में समाप्त तीसरी तिमाही में 5,005.7 करोड़ रुपये का घाटा हुआ. जबकि एक साल पहले समान क्वार्टर में कंपनी को 1,284.5 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. हालांकि, दोनों वित्त वर्षों के आंकड़ों की तुलना नहीं हो सकती क्योंकि वोडाफोन आइडिया का विलय 31 अगस्त, 2018 को पूरा हुआ था. तिमाही के दौरान कंपनी की कुल आय 11,982.8 करोड़ रुपये रही, जो जुलाई-सितंबर क्वार्टर के 7,878.6 करोड़ रुपये के आंकड़े से 52 प्रतिशत अधिक है. 

About Pradeep Verma

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

स्वर्ण और उत्कृष्ट परियोजनाओं से संवरेगा पुरानी ट्रेनों का हुलिया

Spread the love नई दिल्ली। महामना और हमसफर जैसी नई प्रीमियम ट्रेनों की कामयाबी को देखते ...